गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी सलाह: इंदौर के खालसा कॉलेज न जाएं राहुल गांधी

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की मध्यप्रदेश में एंट्री के पहले सुरक्षा को लेकर राजनीति गरमा गई है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि राहुल गांधी इंदौर के खालसा कॉलेज न जाएं। इस पर यात्रा प्रभारी पीसी शर्मा ने पलटवार करते हुए कहा कि हम किसी से डरने वाले नहीं हैं। सभा खालसा कॉलेज में ही होगी।

इधर राहुल गांधी की यात्रा कार्यक्रम में फिर बदलाव हुआ है। वे 26 नवंबर को संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर की जन्मस्थली महू पहुंचेंगे। इससे पहले राहुल 27 नवंबर को यहां जाने वाले थे।

भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश में 23 नवंबर को बुरहानपुर से एंट्री करेगी। मध्यप्रदेश में यात्रा के प्रभारी पीसी शर्मा ने बताया कि महाकाल दर्शन के लिए राहुल गांधी 1 दिसंबर के बजाय 30 नवंबर को जाएंगे। इसके बाद उज्जैन में आमसभा होगी। मध्यप्रदेश से राजस्थान में एंट्री की तारीख में भी बदलाव हुआ है। अब राहुल आगर जिले से 3 दिसंबर के बजाय 4 दिसंबर को राजस्थान में प्रवेश करेंगे।

दो दिन पहले इंदौर की एक होटल पर सनसनीखेज लेटर पहुंचा था। इसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी की खालसा कॉलेज में होने वाली सभा पर हमले की धमकी दी गई। इसी के साथ पूरे इंदौर को बम विस्फोट से दहला देने की धमकी भी दी गई थी। लिफाफे पर रतलाम के भाजपा विधायक चेतन्य कश्यप का नाम लिखा था। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है।

गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने राहुल गांधी को इंदौर के खालसा कॉलेज में नहीं जाने की सलाह दी है। गृहमंत्री ने कहा- उनकी जो यात्रा मध्यप्रदेश में आ रही है, उसमें उनके खालसा कॉलेज इंदौर जाने का कार्यक्रम है। मेरा आग्रह है कि कमलनाथ जी के जाने के बाद वहां विवाद हुआ था। कानपुर के संत जी ने विरोध किया था। मैं राहुल गांधी से आग्रह करता हूं कि किसी ऐसे स्थान पर न जाएं, जिससे विवाद उत्पन्न हो।

यात्रा के दिन कम होने पर नराेत्तम मिश्रा ने कहा- दिन और भी कम हो सकते हैं। स्वाभाविक रूप से निर्धारित लोगों को हटा दें, तो उस तरीके से समर्थन मिल नहीं पा रहा, इसलिए सोच रहे होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.