राहुल गांधी की पदयात्रा में सीएम शिवराज सिंह चौहान के साले भी 386 किलोमीटर चलेंगे।

मप्र में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा अब 20 नवंबर के बजाए 23 नवंबर को प्रवेश करेगी। बुधवार महाराष्ट्र के मालेगांव में मप्र कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ, कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी जेपी अग्रवाल, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविन्द सिंह, अजय सिंह राहुल, अरुण यादव, कांतिलाल भूरिया ने राहुल गांधी के साथ बैठक की। इस बैठक में यह फैसला हुआ कि मप्र में एंट्री के तुरंत बाद दो दिन का ब्रेक न किया जाए। मप्र कांग्रेस के नेताओं ने सुझाव दिया कि एमपी में यात्रा पूरे उत्साह के साथ प्रवेश करे। यदि यात्रा मप्र में एंट्री करने के बाद ही दो दिन का ब्रेक करेगी तो कार्यकर्ताओं का उत्साह धीमा पड़ सकता है। लिहाजा यात्रा 23 नवंबर को सुबह बुरहानपुर के बोरदली गांव से शुरु हो।

मप्र में राहुल गांधी की यात्रा 13 दिन में करीब 386 किलोमीटर चलेगी। मप्र की पदयात्रा में बुरहानपुर से आगर तक करीब 386 किलाेमीटर तक राहुल गांधी के साथ पूरे समय पैदल चलने के लिए 5 हजार कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इनमें भारत जोड़ो यात्रा के मप्र प्रभारी पीसी शर्मा, जयवर्द्धन सिंह, सचिन यादव, अजीता वाजपेई, निलय डागा सहित कई सीनियर नेता पूरे समय पदयात्रा करेंगे। खास बात ये है कि राहुल गांधी की पदयात्रा में पूरे साढ़े तीन सौ किलोमीटर का सफर सीएम शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह मसानी भी तय करेंगे। संजय मसानी पिछले 2018 के चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। फिलहाल वे कमलनाथ के साथ राजनीति में कदमताल कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.