प्रेमी के पिता सहित तीन लोगों पर भंवरकुआ थाने में गैंगरेप का केस

उज्जैन की एक महिला ने प्रेमी के पिता सहित तीन लोगों पर भंवरकुआ थाने में गैंगरेप का केस दर्ज कराया है। पीड़िता पहले से शादीशुदा है। महिला के मुताबिक प्रेमी ने धोखे से उसे बुलाया और विवाद किया। बाद में थाने पर समझौता होने के बाद रास्ते से उसे बाइक पर बैठाकर ले गए और सुनसान इलाके में ले जाकर रेप किया। पुलिस के मुताबिक पूरे मामले में जांच की जा रही है।

उज्जैन में रहने वाली 33 साल की महिला ने बताया कि वह 26 जून को अपने प्रेमी योगेश शर्मा निवासी भंवरकुआं से मोबाइल लेने इंदौर आई थी। वह करीब चार घंटे तक उसका इंतजार करती रही। लेकिन योगेश नही पहुंचा। इसके बाद वह शांति धाम कॉलोनी गेट के पास मिलने आया था। यहां विवाद के बाद योगेश ने पहले अपनी मां को बुलाया फिर डॉयल 100 को कॉल कर योगेश ने पुलिस को बुला लिया। इसके बाद वह तेजाजी नगर थाने चले गए। रात 12 बजे योगेश की तरफ से शिकायती आवेदन पुलिस को दिए गए।

इसके बाद पीड़िता पैदल करीब 12 बजे बस स्टैंड के लिए निकली थी। रास्ते में बाइक पर योगेश के पिता नंदकिशोर बैरागी और कौशल मिले। उन्होंने कहां कि वह बेटे योगेश को समझाएंगे। इसके बाद दोनों उसे बाइक पर बैठाकर सुनसान इलाके में ले गए। यहां कॉल कर मनीष को बुलाया इसके बाद नंदकिशोर टायलेट का बहाना बनाकर कुछ देर में आने का कहकर चले गए। इसके बाद कोशल और मनीष ने हाथ पकड़कर अपशब्द कहे फिर खेत में ले जाकर रेप किया। इसके बाद नंदकिशोर ने आकर हाथ पकड़कर जबदस्ती करने की कोशिश की। पीड़िता ने बताया कि सुबह साढ़े पांच बजे वह जैसे-तैसे बस स्टैंड पहुंची। यहां से सुबह साढे सात बजे उज्जैन के नीलगंगा थाने आई और पुलिस को पूरी जानकारी दी। यहां अफसरों ने उन्हें इंदौर की घटना का हवाला देते हुए वही रिपोर्ट लिखवाने की बात कही।

पुलिस के मुताबिक पीड़िता ऑनलाइन कपड़ों की सेलिंग का काम करती है। 2020 में उसने योगेश के खिलाफ अपहरण,मारपीट और रेप के मामले में केस दर्ज कराया था। योगेश का करीब एक साल पहले कोर्ट में इस बात पर समझौता हुआ था कि दोनों शादी कर रहे हैं। समझौते के बाद योगेश बदल गया। पीड़िता के मुताबिक आरोपी उसे जान से मारने की धमकी दे चुके हैं। भंवरकुआ पुलिस फिलहाल पूरे मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.