चोरी के आरोप में पकड़ाए उत्तर प्रदेश के मौलवी

इंदौर में सुख संपदा नगर में चोरी के आरोप में पकड़ाए उत्तर प्रदेश के मौलवी को लेकर नई कहानी सामने आई है। पुलिस ने बताया कि वह जमात का कहकर घर से निकलता था और एक सप्ताह बाद लौटता था। उसके साथ उसकी गैंग के साथी भी रहते थे। पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए साढ़े तीन हजार किमी का सफर किया और 500 से ज्यादा सीसीटीवी खंगाले। पुलिस को मौलवी के घर से ऐशोआराम का सभी सामान मिला है। पुलिस ने इन सबकी रिकॉर्डिंग की है।

इंदौर के नमकीन कारोबारी स्वप्निल अग्रवाल के यहां हुई चोरी की वारदात में शामिल आरोपी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे। पांच दिन की कड़ी मेहनत के बाद दिन रात एक-एक कर चोरों के बारे में पुलिसकर्मियों ने जानकारी निकाल ली। चोर अपने घर पर जमात का कहकर निकलते थे।

स्वप्निल अग्रवाल निवासी एमआर 9 के यहां सुख संपदा में चोरी हुई थी। यहां लाखों का सोना और नकदी लेकर चोर फरार हुए थे। सीसीटीवी फुटेज के बाद चोरों के नाम नसीम मौलाना मोहम्मद शरीफ निवासी गाजियाबाद सामने आए थे। जब पुलिस इनके ठिकाने पर पहुंची तो पता चला कि वह जमात में जाने का कहकर घर से निकले थे। वे सप्ताहभर बाद घर लौटते थे। पुलिस ने उसके घर के सामान के फोटो लिए और रिकॉर्डिंग कर इंदौर वापस आ गए। इनमें ऐशोआराम का हर सामान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.