गर्लफ्रेंड न्यूड कॉल के लिए उकसाती, ब्वॉयफ्रेंड करता ब्लैकमेल

इंदौर में CRPF अफसर का बेटा सेक्सटॉर्शन गिरोह का सरगना बन गया। हिमांशु तिवारी खुद एक साल पहले सेक्सटॉर्शन का शिकार हुआ था। इसके बाद उसने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ गिरोह बनाया। फिर शुरू हुआ सोशल मीडिया पर लोगों को अश्लील बातों में फंसाकर न्यूड वीडियो कॉल के जरिए ब्लैकमेल करने का खेल। अब तक 35 लोगों को ब्लैकमेल कर रुपए ऐंठे हैं। हिमांशु के CRPF अफसर पिता को जब इकलौते बेटे की गिरफ्तारी का पता चला तो उन्होंने पुलिस को फोन कर पूरा मामला जाना। पिता बोले-बेटे की परवरिश में कोई कमी नहीं आने दी। फिर वो ऐसे कामों में कैसे उलझ गया।

थाना प्रभारी सतीश पटेल ने बताया कि हिमांशु की गैंग इंस्टाग्राम पर लड़कियों के आकर्षक फोटो डालती थी। फेसबुक पर भी सुंदर लड़कियों की आईडी बनाकर लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते थे। जो रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लेते, उससे अश्लील चैटिंग करते। फिर न्यूड वीडियो बनाने के लिए उकसाते। इस वीडियो चैटिंग को स्क्रीन रिकॉर्डर के जरिए रिकॉर्ड करके उसे ही भेज देते। इस तरह ब्लैकमेल करके रुपए ऐंठते। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी स्टूडेंट हैं। इनमें एक नाबालिग भी है। मुख्य आरोपी हिमांशु तिवारी, उसकी गर्लफ्रेंड प्रियंका पिता पुष्पेश विश्वकर्मा निवासी इंदौर, रीवा के रहने वाले दो छात्र अमर और सीताराम पुलिस की गिरफ्त में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.