चट्टान को काटकर बनाया गया है ये प्राचीन मंदिर

भारत के ऐसे मंदिर हैं, जिनकी नक्काशी अदभूत है. उनमें से एक है कैलाश मंदिर. ये मंदिर महाराष्ट्र केऔरंगाबाद जिले में एलोरा में स्थित है.आपको जानकर हैरानी होगी इस मंदिर का निर्माण पहाड़ को काट कर किया गया था.

ये मंदिर.भगवान शिव मंदिर के चौबीस मंदिरों और मठों के एक समूह का हिस्सा है, जिसे एलोरा गुफाओं (Ellora Caves) के नाम से जाना जाता है. ये मंदिर प्रमाण है कि इतिहास में कई बेहतरीन शिल्पकार थे. जिन्हें  शिल्पकारी के बारे में काफी अद्भूत ज्ञान था.

इस शानदार मंदिर का निर्माण राष्ट्रकूट वंश के राजा नरेश कृष्ण प्रथम ने बनवाया था. राष्ट्रकूट वंश ने छठी और दसवीं शताब्दी के बीच भारतीय उपमहाद्वीप के बड़े हिस्से पर शासन किया था. 154 फीट चौड़ा यह मंदिर केवल एक चट्टान को काटकर बनाया गया है. इसका निर्माण ऊपर से नीचे की ओर किया गया है.

आपको बता दें, ऐसा अनुमान लगाया जाता है कि 40 हज़ार टन भार के पत्थारों को चट्टान से हटाया गया. इसके निर्माण के लिए पहले खंड अलग किया गया और फिर इस पर्वत खंड को भीतर बाहर से काट-काट कर 90 फुट ऊंचा मंदिर गढ़ा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *